प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत किन लोगों के खाते में आए पैसे जाने

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

भारत सरकार ने गरीबों की कठिनाइयों को कम करने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना(scheme) की घोषणा की थी योजना के अनुसार PM जनधन खाता धारकों के खाते में 500-500 रुपए 3 महीने तक डाले जाएंगे

वित्त मंत्री N. सीतारमण ने ट्वीट में कहा है कि सरकार ने April  के लिए महिला जनधन खाताधारकों के खातों में 500-500 रुपए डाल दिए हैं  महिला इन पैसे को कभी भी निकाल सकती है |

NOTE-  लोग अपने गांव, शहर व पंचायत आदि में किन-किन लोगों के खातों में पैसा आ चुका है जान सकते हैं इसके लिए आपको नीचे एक लिंक दिए हैं उस पर क्लिक करके आप किसी व्यक्ति का पैसा आया है कि नहीं पता कर सकते हैं|

प्रधानमंत्री जन धन Scheme (PMJDP)

प्रधानमंत्री जन धन Scheme  राष्ट्रीय वित्तीय समावेश मिशन है वित्तीय सेवाएं किफायती तरीके से बैंकिंग बचत और जमा खाते, बीमा , पेंशन हो सकती हैं इसकी घोषणा 15 अगस्त 2014 को PM नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से की थी |

PM जनधन योजना के द्वारा ग्रामीण और शहरी स्थानों पर जीरो बैलेंस के साथ खाते खुलवाए गए घर मैं एक मुख्य खाता होता है जिसमें सरकार की किसी भी  का लाभ सीधे आपके Account  में प्राप्त हो जाता है

कैसे पता करें कि आपका पैसा आपके खाते में आया कि नहीं

आप इन निम्न तरीकों से पता कर सकते हैं

  • अपने मोबाइल फोन पर एसएमएस देखकर

जिन जनधन खाता से Mobile नंबर जुड़ा हुआ है उस पर पैसे आने की जानकारी भेज दी गई है इसे देखकर भी लाभार्थी जान सकते हैं कि अपने खाते में पैसा पहुंचा कि नहीं

  • बैंक मित्र से पता करें 

आपके घर से बैंक की शाखा दूर है तो आप अपने घर के आस-पास या गांव में स्थित बैंक मित्र से जाकर पता कर सकते हैं कि आपके खाते में पैसा पहुंचा कि नहीं

  • Website के द्वारा जाने की पैसा आया कि नहीं |

                 Click Here

 

Author: Prakash Raj

I am Prakash Founder Of Hello Sarkari Jobs. Our Website is developed for sharing all types of educational updates such as New Govt Jobs, Admit Card, Answer Key, Syllabus Results and New sarkari jobs updates etc.

1 thought on “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत किन लोगों के खाते में आए पैसे जाने

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *